Author Archives: admin

अहसास

अचानक उसका तबादला दूर-दराज़ किसी स्थान पर हो गया और इधर उसकी बीवी आपातकलीन स्थिति में। रामस्वरूप को समझ नहीं आ रहा था कि करे तो क्या करे

Read More »

मर्दानगी का दावा

चौदह वर्ष की बच्ची, एक पुरुष के हत्थे चढ़ी। पीड़ा दायी आनन्द अटृहास कर उठा। पुरुष की मर्दानगी चरम सीमा पर पहुंची बच्ची की हत्या कर डाली।

Read More »

बच्चों का संतुलित विकास

मानवविकास के साईन्सदान “एरिकसन” का मत है कि जन्म के उपरान्त शुरू के वर्ष बच्चे में इस जगत् के प्रति विश्वास के रिश्तेे को बनाने के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं।

Read More »

क्या आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं

साक्षात्कार में सफलता के लिए आकर्षक व्यक्तित्व, उत्तम शैक्षणिक योग्यता, स्पष्टवादिता, संबंधित विषयों का सामान्य ज्ञान होने के साथ कुछ अन्य बातें भी हैं।

Read More »

लड़की जब सोलह साल की हुई

आईना शरमाने लगा, यौवन बल खाने लगा, लड़की जब सोलह साल की हुई। बाबुल के जूते सरकने लगे, मैया के सपने चटकने लगे, लड़की जब सोलह साल की हुई।

Read More »

मेकअप आंखों का

नारियों व व्यक्तियों में चार-चांद लगाकर उनके रूप-रंग का साक्षात्कार करने वाला प्रत्यक्षत: अगर कोई अंग है, तो वह है - आंखें।

Read More »

पैबंद

ज़र्रा-ज़र्रा, कतरा-कतरा दुश्मन मेरा होता गया सिलसिला हर बात से जब तेरा होता गया तेरे नाम का जो पैबंद मेरी जिंदगी पर लग गया

Read More »

बिखरी ज़िंदगी

सुलेख सोचता जा रहा था कि क्या शौक़ की भी कोई क़ीमत होती है? अब वो है नौकरी। सिर्फ़ 2000 रुपए हर महीने मिलेंगे। इसके लिए उसे अपना शौक़ बेचना पड़ेगा।

Read More »